मांगलिक दोष - What is Mangalik Dosh Effect in Birth Kundli, Remedy Nivaran Tips Mangal

मांगलिक दोष - What is Mangalik Dosh Effect in janam Kundli ?, Know about Remedy Nivaran Tips, Solution of mangal dosh ke upay, kya hota hai, Kaise kare, Upchar, ilaj, puja, mantra, paye chhutakara, samadhan, for boy, for girl, ladke, ladki, meri, putra, putri, kanya, Mangal in English Mars, ke prabhav hindi me,

मांगलिक दोष - What is Mangalik Dosh Effect in Birth Kundli, Remedy Nivaran Tips Mangal

मांगलिक शब्द आधुनिक जीवन मे एक ऐसा शब्द बन गया है कि लोग इसका नाम सुनकर ही एक बार तो भय खा जाते है। अनेक व्यक्ति परेशान हो जाते है कि Manglik Dosh की वजह से कन्या अथवा पुत्र के विवाह मे बाधा आएगी, वास्तविक स्थिति यह है कि यह मांगलिक दोष नामक भयानक दोष आधुनिक लगभग 100 अथवा 150 वर्ष पूर्व ही प्रचलन मे आया है और कुछ ज्योतिषियों ने इसे इतने भयानक रूप में प्रस्तुत किया कि लोग नाम सुनकर ही आंशकित हो जाते है।

What is Manglik Dosh in Kundli ?

(क्या होता है कुंडली में मांगलिक दोष )

Indian Astrology में Marriage या रिश्ता करने के पूर्व वर-वधु की कुंडली मिलान (Match Making) किया जाता है जिसमे मांगलिक दोष भी एक प्रमुख बिंदु होता है, शादी तय होने में. ज्योतिष के अनुसार यदि मंगल ग्रह (Mars Planet) जन्मकुंडली के प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम या द्वादश घर में स्थित हो तो जातक की Birth कुंडली में Manglik Dosh होता है.

Know About Maglik Dosha

आइए मांगलिक दोष कें बारे मे कुछ जाने। मंगल को क्रूर ग्रह माना गया है. इसे युद्ध और विध्वंश का देवता भी कहा जाता है. Kundli मे निम्न अनुसार मंगल यदि बताये गए स्थानेां मे हो तो सामान्यतः कुण्डली प्रथम दृश्टया मांगलिक Mangal in Kundli होता है परंतु यह मंगल कितना अमंगल है इसकी भविश्यवाणी बहुत विचार करकें करनी चाहिए।
1. मेष , सिहं, वृष्चिक, कर्क व मकर लग्न वालों को Manglik Dosh नहीं लगता है।
2. मंगल, कर्क या मकर राशि का कही पर भी बैठा हो।
3. मंगल चार राशि  1-4-7-10 (प्रथम, चतुर्थ, सप्तम और दशम)  मे हो।
4. शनि मंगल एक साथ हो।
5. राहु छठै (6th) भाव मे हो।
6. मंगल और राहु की युति हो।
7. वक्री नीच अस्त व शत्रु क्षेत्र मंगल हो।
8. कन्या की कुण्डली मे जहाॅ मंगल हो उसेी स्थान पर वर की कुण्डली मे कोई पाप ग्रह बैठा हो।
9. सप्तम भाव बली हों।
10. बृहस्पति सप्तमस्य हों।
11. यदि वर और कन्या को 32 से 35 गुण मिलते हों।
12. मंगल सूर्य के साथ अस्त हो।

Manglik Dosh Effect

मांगलिक होने पर मंगल के प्रभाव उसके स्थान, डिग्री, अन्य ग्रहों से युक्ति, राशि आदि के अनुसार होते है कुछ निम्नलिखित Effect माने जाते हैं :-

  • मांगलिक दोष Shaadi विवाह में रोड़ा पैदा कर सकता है जैसे की शादी तय न होना
  • रिश्ता तय होने के बावजूद टूट जाना
  • Overage लंबी आयु के पश्चात् भी Marriage नहीं होना.
  • Marriage के बाद Husband-wife में लगातार तकरार रहना.
  • गृहस्त का सुख न मिलना.
  • चरित्र हीन होना.
  • पति पत्नी में बढ़ते वैर की वजह से फिर तलाक का ख़तरा
  • धन की कमी, Business में loss, accidents  आदि होना
  • खून (Blood) के रोग, लैंगिग रोग होना.
  • संतान सम्बन्धी समस्याएं

Magal Dosh Remedy Nivaran Tips Upay Puja

13 Comments


  1. Aditya
    February 16,2017

    pranaam pandiji mera naam Aditya hai dob 21 feb 1991 hai time of birth 9:15 am hai me manglik hu iske upaay batao ge

    • admin
      February 17,2017

      Thanks for comment....Please send your Birth Place.

  2. Neeraj
    November 17,2016

    My self Neeraj, date of birth 28 feb 1989 time 01.15am. I m manglik but i face the problems my family members looking girl for me but nobody give the response.

  3. Reena choudhary
    October 01,2016

    Sir ky mamglik hu mera shaadi k baad s bahut tension h.mera shadi m divorce ka yog h kya please reply

  4. meenu
    July 24,2016

    Ram ram ji hmari kundali m koi problem h kya nhi ji shadi ki bat hote 2 rahe jati h ji

Leave a reply