जानिए तुलसी तोड़ने के निषेध समय

tulsi

हमारे शास्त्रों में तुलसी तोड़ने निषेध समय बताएं गए है जो की इस प्रकार है :-

1  वैधृति और व्यतिपात - योगों में

2 रविवार, मंगलवार और शुक्रवार

3 द्वादशी, अमावस्या एवम् पूर्णिमा

4 दोनों संध्या काल में और रात्री में

5 बिना नहाये और जूता-चप्पल पहनकर भी तुलसी को न छुएं

 

किन्तु बिना तुलसी के भगवान की पूजा अपूर्ण मानी जाती है, अतःनिषेध काल में भी तुसली पौधे से स्वतः टूटी हुई पत्तियों का प्रयोग किया ज सकता है. शालग्राम की पूजा के लिए भी निषेध काल में तुलसी तोड़ी जा सकती है .

 

तुलसी से प्राप्त होने वाले लाभ - औषधि रूप में बेसिल

हमसे जुड़ने के लिए हमारा facebook पेज like करें facebook.com/dainiktime

 

facebook

rashifal 18+ onlyHealth tips

 

 

Leave a reply