क्या है GST Bill - Goods and Services Tax Bill, Profit and Losses

gst bill news, gst means, gst news, gst bill passed, gst bill pdf, gst bill benefits, gst bill 2015, gst bill in hindi, kya hai, kya hoga , fayda, gst in profit and loss statement, gst kya hai hindi me, gst bill kya hai, service tax kya ha, what is gst in hindi, goods and service tax in hindi, gst meaning in hindi, gst in hindi, gst full form in hindi, gst bill benefits, gst bill disadvantages

क्या है  GST - Goods and Services Tax Bill, Profit & Losses

GST Bill को India के Tax System में महत्वपूर्ण बदलाव माना जा रहा है. संविधान 122 वां संशोधन है GST Bill.  के भारतीय अर्थव्यवस्था को काफी प्रभावित कर सकता है GST Bill.

मोटे तौर पर कहा जाये तो आज तक हम किसी भी उत्पाद या सेवा को लेते समय या खरीदते समय अलग अलग प्रकार के Tax Government को Pay करते आयें है, जैसे की Sales Tax / VAT, Service Tax आदि लेकिन GST Bill लागु होने के बाद हमें सिर्फ एक ही Tax देना होगा जो की है Goods & Service Tax.

फ़िलहाल India के अलग अलग राज्यों में Tax System अलग अलग होने के कारण एक ही निर्माता की वस्तु का मूल्य विभिन्न राज्यों अलग अलग चुकाना पड़ता है और एक ही वस्तु पर कई प्रकिया के दौरान कई बार Tax वसूल कर लिया जाता है, जिससे उसकी कीमत का लगभग 30 से 45 प्रतिशत अतिरिक्त हमें Tax में चुकाना पड़ता है. GST BILL के लागु होने से किसी भी वस्तु पर केवल एक बार ही Tax लगेगा और वो भी सिर्फ MRP पर. इसकी अनुमानित दर 18% हो सकती है.

दुनिया लगभग 165 देशों me GST लागु है, यहाँ तक की Pakistan में भी.

 GST Bill के मुख्य बात

  • One Nation One Tax सिस्टम
  • राज्य सभा में सर्वसम्मति से Pass, लेकिन प्रत्येक विधानसभा में Pass  होना बाकी
  •  कुछ वस्तुएं और भी महँगी हो सकती है जैसे packed food, Jewelry item आदि
  • घर में उपयोग होने वाले इलेक्ट्रिकल गुड्स सस्ते हो सकते है, क्योंकि अब Excise Duty  12.5% तथा VAT 14.5% दोनों के स्थान पर केवल एक GST ही चुकाना होगा.
  • लेकिन फ़िलहाल सभी Services पर कुल 15 % Service Tax चुकाना पड़ता है, जो की GST BILL के बाद बढ़ जायेगा अर्थात् Phone Bill, Repairing Bill आदि महंगे हो सकते है.
  • अभी मकान खरीदते समय Service Tax और VAT दोनों देने पड़ते है लेकिन GST Bill के बाद सिर्फ GST देना होगा
  • Restaurant में खाना खाना सस्ता हो जायेगा.      
  • किसी भी Manufacturing Industry को Excise Duty, Sales Tax समेत लगभग 13-14 तरह के Tax चुकाने पड़ते है जिसमे समय और पैसा दोनों ही अधिक लगता है, जबकि GST Bill के बाद सिर्फ एक ही Tax भरना होगा और विभिन्न कार्यालयों के चक्कर, payment. Returns आदि से आज़ादी मिल जाएगी.
  • GST तीन प्रकार का होगा CGST (Central), SGST (state) और IGST (इंटरस्टेट) 

 

 

क्या होंगे फ़ायदे GST Bill से.......NEXT

13 Comments


  1. Akshay gore
    July 02,2017

    GST is a very better idea of cheaper be things

  2. name anita shukla
    April 03,2017

    Comment Gst kya Vat ki tarah selling par bar bar lagega

  3. Name KR SHARMA
    March 25,2017

    Comment want to know what step should be for transpiration /logistics/warehouse what type of activity add or reduce

  4. Dhananjay kale sir islapurName
    January 31,2017

    is gst seprate for states?

  5. arun kalita
    October 16,2016

    Comment. Local seller and purchase r ko tax Varna parega.

Leave a reply