अंडमान निकोबार -Andaman and Nicobar Islands tourism

अंडमान निकोबार -Andaman and Nicobar Islands tourism in hindi, Major historical information, One of The Best Tourist Place in India - Port Blair,  Attractions. history, kya hai, kaise,  information.

port

Andaman Nicobar Islands  ( अंडमान-निकोबार द्वीप समूह )

कभी अंग्रेजों की कालापानी झेल रहा था यह स्थान अंडमान-निकोबार। इस द्वीप समूह की राजधानी पोर्ट ब्लेयर है, जबकि जनसंख्या 2001 के अनुसार केवल 356,265 एवं क्षेत्रफल 8,249 वर्ग किलोमीटर है और जनसंख्या घनत्व मात्र 43 वर्गकिलोमीटर है। यहां की भाषायें हिन्दी, निकोबारी, बंगाली, तेलुगु, मलयालम और तमिल है।  भारत का यह केन्द्र शासित प्रदेश हिंद महासागर में स्थित है।

Major historical information  ( प्रमुख ऐतिहासिक जानकारी )

कभी भारतीय स्वाधीनता संग्राम में भाग लेने वालों को कठोर कारावास भोगने के लिये यहां भेजा जाता था। सन् 1789 में ईस्ट इंडिया कम्पनी द्वारा बस्तियां बसानी प्रारम्भ करने के पश्चात् अंडमान द्वीप समूहों का नया इतिहास प्रारंभ हुआ। भारत के प्रथम स्वाधीनता संग्राम के पश्चात् सन् 1858 में इस जगह का अंग्रेजी सरकार ने कालापानी नाम देकर आजीवन कारावास पाने वालों को यहां भेजना प्रारंभ किया ािा। यह इतनी भयानक सजा होती थी कि सुनकर भी आदमी कांप जाता था। भारत की स्वाधीनता से पहले सन् 1947 तक अंग्रेजों ने ही इस द्वीप का शासन संभाला था ।

One of The Best Tourist Place in India - Port Blair  ( पोर्ट ब्लेयर )

जिसकी कालापानी के नमा से रुह भी कांप जाती थी, वह अब पर्यटकों का आकर्षण का केन्द्र बन गया है। 556 छोटे बडे द्वीपों का समूह अंडमान निकोबार भारत से एक हजार दौ सौ समुद्री मील दूर स्थित है। आज राष्ट्रीय स्मारक घोषित की जा चुकी सागर किनारे के पास स्थित है सेल्युलर जेल। इस जेल का निर्माण सन् 1896 में प्रारंभ हुआ और यह सन् 1906 में बनकर पूरी हुई।
इस जेल के चहुंओर का खारा पानी था। इसी कारण यह जेल कालापानी कहलाती थी। वीर सावरकर, बाबा सोहन सिंह व बटुकेश्वर दत जैसे महान क्रांतिवीर इसी जेल में रखे गये थे।
पोर्टब्लेयर में एक आदिवासी वस्तु संग्रहालय भी है। एशिया की सबसे विशाल आरा मिल चाथम सामिल यहां पर स्थित है। यह केन्द्र सरकार के नियत्रंण में है। यहां एक अनूठा सामूहिक वस्तु संग्रहालय है। इसमें समुद्र में मिलने वाली विभिन्न वनस्पतियों और जीवों का खासा संग्रह है।

next page

Other Attractions  ( अन्य आकर्षण स्थल )

पोर्टब्लेयर से वंडूर होकर बस द्वारा जालीबाय पहुंचा जाता है। बोट में बैठकर वंडूर से जालीबाय जाते हैं। यहां की नावों की विशेषता है कि इनके तले में पारदर्शी चादरे लगीं होती है। जिससे नाव में बैठे याी समुद्री वनस्पति और जीवों को वास्तविक रूप से निहार सकते है।
सल्युलर जेल के निकट वाटर स्पोटर््स काॅम्प्लैक्स भी स्थित है। जंगल मार्ग से बस द्वारा जायें तो चिडि़या टापू बस से 25 किलोमीटर अवस्थित है। यह पिकनिक के लिये तो आदर्श स्थल है ही, प्रकृति प्रेमियों के लिये भी यह मानो वरदान है।
पोर्टब्लेयर से चार घंटे की यात्रा पूरी कर फेरी यात्रा से हेवलाक आप पहुंच सकते है। यहां स्थित हाट बाजार में सैलानी घूमने और नारीयल पानी पीने का मजा ले सकते है।

यह  “अंडमान निकोबार -Andaman and Nicobar Islands tourism ”का लेख आपको कैसा लगा जरुर आपके विचार नीचे कमेंट्स बॉक्स में लिखे.

हमसे जुड़ने के लिए हमारा facebook पेज like करें facebook.com/dainiktime

facebook

rashifal panchang18+ onlyHealth tips

 

अंडमान निकोबार -Andaman and Nicobar Islands tourism

Leave a reply